गर्मी में अपनी सेहत का ध्यान कैसे रखे Tips for Healthy Living in Summer

Loading...

Tips for Healthy Living in Summerमित्रो जैसा कि आप जानते है कि मई का महीना शूरू हो गया है और गर्मी अपने प्रचंड स्वरूप में है | इस भीषण गर्मी में सूरज के तेज से मनुष्य ही नही बल्कि जीव जन्तु ,वनस्पतिया , नदी ,तालाब ,कूए भी प्रभावित हुए बिना नही रह सकते है | इसलिए गर्मी से बचने का उपाय करना अति आवश्यक हो जाता है | इस मौसम में ऊँचा तापमान ,प्रचंड धुप के साथ झुलसा देने वाली लू चलती है इसलिए अक्सर लोग दिन के समय अपने घर या ऑफिस से बाहर नही निकलते है लेकिन फिर भी कई नौकरीपेशा लोगो को बिना गर्मी के परवाह किये अपना काम करना पड़ता है | इसलिए आज हम आपको गर्मी से बचने के कुछ सरल उपाय बताना चाहते है |

खान पान का कैसे ध्यान रखे

  • गर्मी के मौसम में दिन भर में कम से कम 10 से 15 गिलास अवश्य पिये और पानी पीने में कोताही ना बरते क्योंकि इस मौसम में पानी पसीने के जरिये शरीर से बाहर निकल जाता है | शरीर में पानी की कमी ना होने पाए इसलिए पानी का अत्यधिक उपयोग जरुरी है
  • गर्मी में तली हुयी या मसालेदार चीजे कम खाना सेहत की लिए फायदेमंद होता है | खाने में भी ज्यादा नमक ना लेवे | नमकीन ,मूंगफली ,तले हुए पापड़ चिप्स और तेल में तले हुए पदार्थ कम से कम खाने चाहिए |
  • प्रतिदिन सुबह मुह धोने के बाद एक गिलास नीम्बू पानी पीना चाहिए क्योंकि इससे चेहरे की चमक बनी रहती है और साथ ही पानी भी समय समय पर पीते रहना चाहिए |
  • गर्मी में फल शरीर के लिए वरदान है | आमा और सेब का रस अतिरिक्त लाभ पहुचाता है | जलजीरा ,कच्चे आम का पन्ना एवं रस ,प्याज ,दही शीतलता देने के साथ साथ लू से भी बचाते है
  • नशीले पदार्थ गर्मी को ओर ज्यादा बढाते है इसलिए सिगरेट ,शराब ,चाय काफी आदि की जगह कच्ची हरी सब्जिया और फ्लो पर अधिक ध्यान देना चाहिए |
  • तेज धुप से बचाव करके ही घर से निकले और विशेषकर सिर एवं त्वचा को किसी तरह बचाये | इसके लिए टोपी , स्कार्फ , दस्ताने या गमछे का प्रयोग करे |
  • आंखो को सूरज की तेज धुप से बचाने के लिए गहरे रंग के चश्मों का प्रयोग करना चाहिए और अच्छी किस्म की सनस्क्रीन क्रीम लोशन का प्रयोग करना चाहिए
  • धनिये को भिगो लेवे फिर उसे अच्छी तरह मसल लेवे और छानकर उसमे थोड़ी से शक्कर मिला लेवे | इसे पीने से गर्मियों में राहत मिलती है |
  • इमली के बीजो को पीसकर उसे पानी में घोलकर कपड़े में छान लेवे | इस पानी में शक्कर मिलाकर पीने से गर्मी में राहत मिलती है |
  • बेल का शर्बत गर्मी के लिए उत्तम माना जाता है और ये गर्मी में मोटापा घटाने में भी सहायक होता है |
  • नारियक में प्रचुर मात्रा में पौष्टिक तत्व होते है और गर्मी में इसका सेवन सबसे अच्छा होता है
  • नीम्बू की शिकंजी गर्मी में सबसे अच्छा पेय है इसे घर पर आसानी से तैयार किया जा सकता है |यह बार बार लगने वाली तृषा को भी शांत करता है |
  • पुदीने में प्राकृतिक रूप से पिपरमिंट पाया जाता है इसलिए गर्मी में यह ठंडक देने वाला है | लू ,बुखार ,शरीर में जलन और गैस की त्ल्कीफ को दूर करता है |
  • गर्मी के मौसम में जीरा-नमक डालकर छाछ पीना बहे फायदेमंद होता है यह पाचन तन्त्र को दुरुस्त रखता है और उल्टी से बचाता है |
  • इस मौसम में हरी सब्जियों जैसे ककडी ,तुरई ,लौकी , कमलककडीका खूब सेवन करे क्योंकि इसमें जलीय अंश की अधिकता होती है और इससे शरीर शीतल रहता है |
  • लोग ,जायफल ,दालचीनी का प्रयोग कम करे क्योंकि इनके सेवन से शरीर में गर्मी बढती है |
  • नाश्ते में पौहा ,दलिया ,इडली और फल लीजिये | परांठे ,पूड़ी ,डोसा ,भटूरे ,कचौड़ी जैसी तैलीय चीजो का सेवन ना करे |
  • चाय और काफी का उपयोग केवल सुबह करे और दिन में चाय कम करने की कोशिश करे|
  • भोजन में पुदीने ,प्याज और कच्चे आम की चटनी अव्स्श्य खाये  | ये सब तासीर में ठंडे और पाचक है |
  • खिचडी में सब सब्जिया डालकर प्रतिदिन नाश्ते में लिया जा सकता है |
  • सुपाच्य खाद्य पदार्थो का सेवन करे | बासी और फ्रिज में कई दिनों तक रखे खाद्य पदार्थो का सेवन ना करे |
  • गर्मी में भोजन करते समय यह ध्यान रखना जरुरी है कि भूख से थोडा कम ही खाए ,विशेषकर घर से बाहर निकलते समय | क्योंकि इस ऋतू में पानी अधिक पिया जाता है |रात्री में भोजन सोने से करीब दो घंटे पहले ले |भोजन के बाद थोडा टहल लेवे |

गर्मी में कैसे कपड़े पहनने चाहिए

  • गर्मी में गाढे रंग के कपड़े सूरज की किरणों को अवशोषित करते है वही हल्के रंग के कपड़े सूरज की किरणों को परावर्तित कर देते है और आँखों को आराम भी देते है |
  • गर्मी में हल्का पीला .गुलाबी , समुदी हरा ,आसमानी नीला और सफेद जैसे रंग के कपड़े पहनने चाहिए |
  • सूती ढीले कपड़ो से बेहतर ओर कोई विकल्प नही है | इसकी बनावट की वजह से त्वचा बेहतर तरीके से साँस ले पाती है और शरीर ठंडा रहता है |सूती कपड़े पुरी तरह प्राकृतिक होने के कारन एलर्जी से बचाव करते है जबकि सिंथेटिक कपड़ो से एलर्जी की शिकायत हो सकती है |
  • ऐसे कपड़े पहने , जो ढीले होने के साथ साथ शरीर के ज्यादा से ज्यादा हिस्से से धक सके |जींस पहनने की बजाय ढीला सूती पजामा या फिर ऐसे बॉटम पहने जिनकी मोहरे चौड़ी हो |
  • धुप में निकलते समय शरीर ढका होना चाहिए | मोटरसाइकिल, स्कूटर , साइकिल चलाते समय मुंह , सिर, हाथ ढके होने चाहिए | हवादार तथा पसीना सोखने वाले कपड़े पहनना चाहैय्ते |

व्यायाम देगा गर्मी से राहत

  • गर्मी और उमस में किया गया थोडा सा व्यायाम भी शरीर को थका देता है लेकिन इसका यह मतलब नही है कि व्यायाम छोड़ दे | इसके लिए ज्यादा पसीना बहाने वाले व्यायाम की जगह हल्के और आसान व्यायाम करे  ध्यान योग और प्राणायाम को अपनाए |
  • गर्मी के मौसम में व्यायाम करने में सावधानी बरतनी चाहिए | व्यायाम के समय कपड़ो का चयन और खान पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए |
  • जिम में व्यायाम करते समय सूती कपड़े ही पहनने चाहिए और दोपहर में कभी व्यायाम ना करे |
  • व्यायाम के दौरान थोडा थोडा पानी या नीम्बू पानी लेते रहना चाहिए | ग्लूकोज मिश्रित जल का उपयोग बहुत अच्छा होता है
  • जिस व्यायाम में पसीना अधिक निकलता है उसे करने के पश्चात भरपूर पानी या पौष्टिक पेय लेवे |

तो मित्रो आप गर्मी में अपने बचाव के लिए क्या तरीके आजमा रहे हमे कमेंट में अवश्य बताये |

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *