Stars Facts in Hindi | तारो से जुड़े दिलचस्प तथ्य

Stars Facts in Hindi
Stars Facts in Hindi

हजारो वर्षो से रात के वक्त आसमान में तारो (Stars) को देखते हुए इंसान के मन में इन्हें लेकर कई तरह की जिज्ञासाए पैदा होती रही है | आमतौर पर सबसे पहले मन में यही सवाल उठता था कि आखिर आसमान में कितने तारे (Stars) है ? कितने ही बच्चो को याद होगा कि उन्होंने खेल खेल में तारो को गिनने की कोशिश भी की होगी |

हालांकि ठीक ठीक तो आज भी वैज्ञानिक इसका पता नही लगा सके है परन्तु जब यही सवाल एक मशहूर वैज्ञानिक से पूछा गया था तो उनका कहना था कि पृथ्वी पर जितने समुद्र तट है और वहां जितने रेट के कण है उससे कही ज्यादा ब्रह्मांड में तारे है | या दावा था अमेरिकी खगोलविद कार्ल सगन का | ऐसे में सवाल पैदा होता है कि क्या ब्रह्मांड के तारो की गिनती की जा सकती है ?

कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के खगोलविद प्रोफेसर गैरी गिरमोर आकाशगंगा में मौजूद तारो की गिनती कर रहे है | आकाशगंगा में ही पृथ्वी और सौरमंडल है | वह उस परियोजना के लीडर है जिसके तहत यूरोपीय अन्तरिक्ष यान के जरिये आकाशगंगा में तारो की गिनती की जा रही है | दूरी के हिसाब से उनकी टीम ने जप पहला डाटा जारी किया है उसमे 2 अरब से कम तारे है जो हमारे आकाशगंगा के कुल तारो का महज 1 प्रतिशत है | गिनती के इस हिसाब से आकाशगंगा में करीब 20 हजार करोड़ तारे हो सकते है |

यह सिर्फ आकाशगंगा की बात है तो फिर पुरे ब्रह्मांड में कितने तारे (Stars) होंगे ? प्रोफेसर गैरी बताते है कि दुसरी आकाशगंगा में हमारे आकाशगंगा के बराबर तारे हो सकते है | अगर पता लग सके तो कि ब्रह्मांड में कितनी आकाशगंगाए है तो तारो की संख्या का अंदाजा लगाया जा सकता है | वैज्ञानिक अनुमानों के अनुसार ब्रह्मांड में 10 हजार करोड़ आकाशगंगाए है और हर आकाशगंगा में करीब 20 हजार करोड़ तारे है | अब इनको गुणा करके ब्रह्मांड के तारो की संख्या का पता लगाया जा सकता है यानि दो के बाद 22 शून्य होंगे यानि ताजा अनुमानों के अनुसार ब्रह्मांड में 2 खरब से भी अधिक तारे है |

तारो से जुड़े दिलचस्प तथ्य | Stars Facts in Hindi

  • हमारी आकाशगंगा में तारे सूर्य से भी बड़े है परन्तु ज्यादा दूरी होने के कारण ये हमे छोटे-छोटे दिखाई देते है |
  • कई तारो का तापमान तो सूर्य के तापमान से कही अधिक है |
  • आसमान में नंगी आँखों से केवल 9096 तारे ही देखे जा सकते है |
  • सूर्य भी एक तारा है जो पृथ्वी के नजदीक होने के कारण बाकी तारो से बड़ा दिखाई देता है |
  • तारे एक दुसरे से काफी दूर स्थित है | उनके बीच की जगह धुल-कणों और गैसों से भरी है | यह गैस हाइड्रोजन , ऑक्सीजन , कार्बन और नाइट्रोजन का मिश्रण होती है |
  • वैज्ञानिकों के अनुसार ध्रुव तारा सूर्य से 2500 गुणा अधिक चमकीला है | इसकी मदद से कई ओर सितारों की खोज की जा सकती है |
  • सुपरनोवा तारे का विस्फोट इतना शक्तिशाली होता है कि इसमें से एक सैकंड में इतनी उर्जा की खपत हो जाती है जितनी कि सूर्य सौ वर्षो में करता है |
  • अक्सर सुनते है कि तारे टिमटिमाते है परन्तु यह सत्य नही है | पृथ्वी के घुमने की वजह से ये हमे टिमटिमाते दिखाई देते है |
  • तारे कई तरह के रंगो के होते है जिनका रंग उसके तापमान पर निर्भर करता है | सबसे ठंडे तारे के रंग लाल उया सबसे गर्म तारे का रंग नीला होता है |
  • तारो का जीवन उनके आकार पर निर्भर करता है | जितना बड़ा तारा होगा उसका जीवन उतना ही कम होगा और जितना तारा छोटा होगा उसका जीवन उतना ही ज्यादा होगा |
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *