चॉकलेट से जुड़े 15 चोकोलेटी तथ्य | Chocolate Facts in Hindi

Chocolate Facts in Hindi | चॉकलेट से जुड़े 15 चोकोलेटी तथ्य
Chocolate Facts in Hindi | चॉकलेट से जुड़े 15 चोकोलेटी तथ्य

चॉकलेट (Chocolate) के बारे में सुन कर किसके मुँह में पानी नही आता होगा | मगर क्या आप जानते हो कि आज जो आप इतने स्वादिष्ट चॉकलेट खाते हो , उसकी शुरुवात करीब 5000 साल पहले ही हो चुकी थी | आइये जानते है चॉकलेट (Chocolate) के बारे में कुछ रोचक जानकारियाँ

Loading...
  1. चॉकलेट (Chocolate) की शुरुवात अमेरिका से मानी जाती है | इसकी शुरुवात्त ईसा से 1900 साल पहले मानी जाती है | यहा के निवासी कोकोआ सीड्स को भगवान का उपहार समझते थे इसलिए बहुत ज्यादा महत्व देते हुए वहा करेंसी के तरह इस्तेमाल लाया जाता था | वहा लोग तीखे एनर्जी ड्रिंक की तरह मसालों ,कॉर्न सूप और वाइन के साथ भी इस्तेमाल करते थे |
  2. 16वी सदी में चीनी के साथ मिलाकर इस्तेमाल में लाया जाने लगा और यह तेजी से यूरोप में लोकप्रिय होने लगा |
  3. बीसवी सदी के US के सैनिक युद्ध के दौरान चॉकलेट को अपने खाने की तरह इस्तेमाल में लाते थे |
  4. दुनियाभर में उपजनेवाले कोकोआ का दो तिहाई हिस्सा पश्चिमी अफ्रीका में उपजता है | अकेले आइवरी कास्ट में पुरी दुनिया के 33 प्रतिशत कोकोआ का उत्पादन होता है |
  5. 1971 में बनी एक फिल्म Vonka and the Chocolate Factory के लिए आग्स्ट्स ग्लूप नाम के एक चॉकलेट रिवर को ख़ास तौर पर तैयार किया गया था | इसे बनाने के लिए 15 हजार गैलन पानी में चॉकलेट और क्रीम को मिक्स किया गया था लेकिन क्रीम मिक्स करने के कारण यह चॉकलेट रिवर तुंरत खराब हो गयी और उसमे से भयानक बदबू भी आने लगी |
  6. अपनी स्थापना के 100 साल पुरे होने पर ब्रिटेन की चॉकलेट कम्पनी थार्नटोन्स ने 2011 में दुनिया के सबसे बड़े चॉकलेट का निर्माण किया जिसका वजन 5792.0 किलो था | यह आईडिया वहा के एक स्टाफ पॉल बेल द्वारा दिया गया था जिसने बचपन में एक फिल्म देखी थी जिसमे चॉकलेट इच्छानुसार सिकुड़कर छोटा हो जाता है | उसने सोचा क्यों न उल्टा किया जाए |जब कम्पनी ने 100 साल होने पर सबसे सेलिब्रेशन की राय माँगी तब उसने कम्पनी को सबसे बड़े चॉकलेट का सुझाव दिया |
  7. एलीना क्लीमेंट ने 2013 में एक ऐसा घर बनाया जहा सारी चीजे चॉकलेट से बनी थी | इसे तैयार करने में 600 किलो चॉकलेट की खपत हुयी | 20 वर्गमीटर के इस कमरे में कुर्सी , टेबल , कप-प्लेट ,ड्रोवेर ,फायरप्लेस तथा फ्लावरपॉट तक चॉकलेट के बने थे | इसकी तैयारी में दो महीने और डेकोरेशन में 14 दिन का समय लगा | अप्रैल 2013 में इस कमरे को बेलारूस के मिन्स्क में एक शौपिंग मॉल में प्रदर्शित किया गया और उन्हें सामानों के टुकड़े चखने के लिए दिए गये |
  8. ऐसे तैयार होता है चॉकलेट (Chocolate) – चॉकलेट का निर्माण कोकोआ से होता है इसे तैयार करने की पुरी प्रक्रिया कई चरणों से होकर गुजरती है | कोकोआ की खेती साल में दो बार की जाती है | इसकी एक फली में 20-25 बीज तक होते है | फली को काटने के बाद निकलने वाले बीज और सफेद पल्प को लकड़ी के कंटेनर में पांच सात दिन के लिए बंद कर दिया जाता है | इसके बाद बीजो को धुप में सुखाया जाता है और फिर रोस्ट किया जाता है | इससे इसके छिलके टूट जाते है जिन्हें अलग कर दिया जाता है | इसके बाद इन बीजो का पेस्ट तैयार किया जाता ही | पेस्ट में मौजूद कोकोआ बटर को हाइड्रोलीक प्रेशर द्वारा अलग कर दिया जाता है | बचे हुए पेस्ट में चीनी ,मिल्क पाउडर और फ्लेवर मिलाकर उससे चॉकलेट तैयार किया जाता है |
  9. करेंसी के रूप में चॉकलेट- माया सभ्यता के लोग कोकोआ बीन्स को करेंसी की तरह इस्तेमाल करते थे | इस समय में इसका मूल्य सोने से भी अधिक था | साथ की कोकोआ की खेती भी पुरी तरह प्रतिबंधित थी जिसके कारण उसके मूल्य में कभी कमी नही आती थी |
  10. वाइट चॉकलेट – सामान्य चॉकलेट कोकोआ या उसके लिक्विड से बनता है लेकिनवाइट चॉकलेट में इसकी जगह पर कोकोआ बटर का इस्तेमाल किया जाता है | असल में यह चॉकलेट नही है इसमें 20% कोकोआ बटर , 14 प्रतिशत मिल्क पाउडर और बाकी मात्रा चीनी की होती है |
  11. दुनिया भर में चॉकलेट की जितनी खपत होती है उसमे से आधी मात्रा अकेले यूरोप में खपत होती है | यहा हर शख्स एक साल में औसतन 11 किलो चॉकलेट खाता है | इसी तरह अमेरिका में हर सेकंड में 100 पौंड चॉकलेट खाई जाती है |
  12. चॉकलेट चिप कुकीज के निर्माण की कहानी भी काफी रोचक है | इसका निर्माण 1930 में रुथ वेकफील्ड से संयोगवश हुआ था | कुकीज बनाते समय उनसे गलती से उसमे नेस्ले चॉकलेट के टुकड़े चले गये और बेक होने के बाद उनसे चॉकलेट चिप कुकीज तैयार हो गयी | वेकफील्ड ने बाद में इसका आईडिया नेस्ले को ही बेच दिया और बदले में कम्पने उसे चॉकलेट कुकीज सप्लाई करने लगी |
  13. चॉकलेट (Chocolate) में थियोब्रोमीन की भारी मात्रा होती है जिससे हार्ट फेल्योर , सीजर्स ,एक्यूट किडनी डैमेज और डीहाईद्रेशन जैसी समस्याए हो जाती है | इसके साथ ही चॉकलेट में भारी मात्रा में चीनी का प्रयोग भी होता है इससे शरीर को काफी मात्रा में कैलोरी प्राप्त होती है इसे अधिक खाने के कारण मोटापा और अन्य समस्याए होने का खतरा रहता है |
  14. 1 पौंड यानि लगबग 450 ग्राम चॉकलेट के निर्माण में लगभग 400 कोकोआ बीन्स का इस्तेमाल होता है |
  15. चॉकलेट (Chocolate) से कुत्ते या बिल्ली बीमार हो सकते है और कभी कभी मर भी जाते है |
  16. 2013 में बेल्जियम में चॉकलेट फ्लेवर स्टाम्प का लिमिटेड एडिशन जारी किया था |
  17. किटकेट का निर्माण पुरे विश्व में नेस्ले द्वारा किया जाता है लेकिन US में उसके competitor हेर्शे इसका निर्माण करते है |

 

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *