More stories

  • Bal Gangadhar Tilak Biography in Hindi
    in

    Bal Gangadhar Tilak Biography in Hindi | बाल गंगाधर तिलक की जीवनी

    बाल गंगाधर तिलक (Bal Gangadhar Tilak) का जन्म 23 जुलाई 1856 ई. को महाराष्ट्र के पश्चिमी किनारे पर स्थित रत्नागिरी में हुआ था | उनके पिता संस्कृत के पंडित थे और माता तपस्विनी थी | पुत्र के लिए तिलक जी की माता ने सूर्य भगवान की पूजा की थी | तिलक का जन्म का नाम […] More

  • Jamshedji Tata Biography in Hindi
    in

    Jamshedji Tata Biography in Hindi | जमशेदजी नौशेरवांजी टाटा की जीवनी

    आज हमारे देश में बड़े से बड़े कारखाने दिखाई देते है पर आज से सौ साल पहले हमारे देश में कारखाने नही थे | जमशेदजी नौशेरवांजी टाटा (Jamshedji Tata) भारत के उन गिने-चुने लोगो में से थे जिन्होंने यहाँ कारखाने खोले | उनका जन्म 03 मार्च 1839 को बम्बई के नवसारी में एक पारसी कुटुंब […] More

  • Ramakrishna Paramahansa Biography in Hindi
    in

    Ramakrishna Paramahansa Biography in Hindi | रामकृष्ण परमहंस की जीवनी

    हुगली जिले के कामारपुर नामक छोटे से गाँव में खुदीराम चट्टोपाध्याय नाम के गरीब ब्राह्मण रहते थे | उनकी पत्नी चन्द्रमणि भी पति के समान ही सरल स्वभाव वाली थी और भगवान की पूजा किया करती थी | इन्ही के घर 17 फरवरी 1836 ई. को भी श्री रामकृष्ण परमहंस (Ramakrishna Paramahansa) का जन्म हुआ […] More

  • P. T. Usha Biography in Hindi
    in

    P. T. Usha Biography in Hindi | उड़नपरी पी.टी.उषा की जीवनी

    पी.टी.उषा (P. T. Usha) भारत में ट्रैक क्वीन , एशिया की स्प्रिंट , उड़नपरी , गोल्डनगर्ल आदि नामो से जानी जाती है | पी.टी.उषा केरल में प्योली नामक गाँव में 20 मई 1964 में जन्मी थी | कई सम्मान एवं उपाधियाँ इनके नाम है | सियोल में हुए 10वे एशियाई खेलो में उन्होंने जो सफलता […] More

  • in

    प्रेरक प्रसंग – अनूठा धैर्य

    संत सुकरात के घर सवेरे से शाम तक सत्संग के लिए आने वालो का ताँता लगने लगा | सुकरात की पत्नी कर्कश स्वभाव की थी | वह सोचती थी कि निठल्ले लोग बेकार ही उसके घर अड्डा जमाए रखते है | वह समय समय पर उनके साथ रुखा व्यवहार करती | इस बात से सुकरात […] More

  • in

    Counseling में अपना करियर कैसे बनाये ? Career Counseling Jobs Guide in Hindi

    वर्तमान में शिक्षा और रोजगार के क्षेत्र का दायरा अत्यधिक व्यापक हो चूका है | विभिन्न शिक्षण संस्थानों में हजारो कोर्सज कराए जा रहे है | आज रोजगारो के हजारो अवसर विद्यमान है इसके साथ ही रोजगार के नये नये अवसरों का सृजन भी हो रहा है | ऐसे में एक ओर जहां स्वयं के […] More