More stories

  • Lokkatha - Do Chalak Bhai
    in

    लोककथा – दो चालाक भाई | Lokkatha – Do Chalak Bhai

    एक राजा था | उसका मंत्री बड़ा चतुर था | मंत्री दो बेटे छोडकर स्वर्ग सिधार गया | बेटे अपने पिता जैसे चतुर चालाक थे | राजा ने उन्हें मंत्री बनाने की सोची लेकिन दरबार के कुछ लोगो ने उनके खिलाफ षडयंत्र रचा | राजा से कह दिया “इनके स्वर्गीय पिता ने हमसे साठ हजार […] More

  • Lokatha - Siddh Ka Prasad
    in

    लोककथा – सिद्ध का प्रसाद | Lokatha – Siddh Ka Prasad

    लालपुर नामक शहर में एक राजा कौशलध्वज राज करता था | राजा के महल के पास एक डूंगरी थी | डूंगरी पर कोई आता जाता तो महल के रखवाले को दिखाई दे जाता था | बिना राजा के हुक्म के डूंगरी पर कोई जा नही सकता था | एक दिन राजा ने महल में जाते […] More

  • Puri Tour Guide in Hindi
    in

    Puri Tour Guide in Hindi | पुरी के प्रमुख पर्यटन स्थल

    उड़ीसा की राजधानी भुवनेश्वर से करीब 60 किमी दूर समुद्र-तट पर स्थित पुरी भारत का परम पावन तीर्थ स्थल है | यहाँ का जगन्नाथ मन्दिर विश्वविख्यात है | बारहों महीने में जगन्नाथ , बलभद्र और सुभद्रा की प्रतिमाओं के दर्शनार्थ लाखो की संख्या में देश-विदेश से लोग यहाँ आते रहते है | पुरी में गुजरते […] More

  • Bhubaneswar Tour Guide in Hindi
    in

    Bhubaneswar Tour Guide in Hindi | भुवनेश्वर के प्रमुख पर्यटन स्थल

    स्थापत्य , वास्तुशिल्प और मूर्तिकला की उत्कृष्ट कलाकृतियो से सम्पन्न उड़ीसा की राजधानी भुवनेश्वर भारत का एक अत्यंत समृद्ध एतेहासिक एवं सांस्कृतिक नगर है | प्राचीनकाल में यह कलिंग के नाम से जाना जाता था | नागर शैली में बने यहाँ के मन्दिर उत्कृष्ट वास्तुकला के नमूने है | यहाँ के सरोवर और झीले भी […] More

  • Pythagoras Biography in Hindi
    in

    Pythagoras Biography in Hindi | पायथोगोरस की जीवनी

    पाईथागोरस (Pythagoras) को महान दार्शनिक और गणितज्ञ माना गया है | इनका जन्म  ईसा से भी 500 वर्ष पूर्व यूनान के सामोस नामक टापू में हुआ था | यह मनुष्य जाति का दुर्भाग्य ही कहा जाएगा कि प्राचीनकाल में लोग अपने विषय में किसी प्रकार की कोई सुचना लिखित रूप में प्रस्तुत करके नही रखा […] More

  • Marie Curie Biography in Hindi
    in

    Marie Curie Biography in Hindi | मादाम मेरी क्युरी की जीवनी

    मादाम मैरी क्युरी (Marie Curie) का जन्म 7 नवम्बर 1867 को वारसा , पोलैंड में उन दिनों हुआ जब पश्चिमी देशो में महिलाओं को उच्च शिक्षा ग्रहण करने का अधिकार नही था | किन्तु मादाम ने भागीरथ प्रयास करके पुरुषो के समान उच्च शिक्षा ग्रहण की | इन्होने रेडियम का अविष्कार करके इतनी ख्याति अर्जित […] More