ध्वनि प्रदुषण पर निबन्ध | Noise Pollution or Sound Pollution Essay in Hindi

Noise Pollution or Sound Pollution Essay in Hindi | ध्वनि प्रदुषण पर निबन्ध | मानव स्वास्थ्य के लिए शोर अथवा ध्वनि प्रदूषण (Noise Pollution) एक गंभीर समस्या का रूप धारण करता जा रहा है | कोलाहलपूर्ण वातावरण ,ऊतम स्वास्थ्य की प्राप्ति में शत्रु है | अवांछित ध्वनि से शिशु चौककर जाग उठता है , चिल्लाने लगता है , रोगी अस्पताल से अनचाही आवाज से व्यथित हो जाता है उसकी निद्रा भंग हो जाती है तथा तीव्र ध्वनि तनाव उत्पन्न करती है | किन्तु शोर को परिभाषित करना कठिन है क्योंकि ध्वनि के प्रति हर व्यक्ति का दृष्टिकोण अलग अलग हो सकता है | उदाहरनार्थ – ट्रेन की ध्वनि , पॉप संगीत ,शास्त्रीय संगीत ,बस का हॉर्न इत्यादि से उत्पन्न ध्वनि  , ट्रेन ड्राईवर ,संगीत प्रेमी ,बस चालक इत्यादि के लिए एक विशेष परिपेक्ष्य में होती है जबकि अन्य व्यक्ति इसे ध्वनि प्रदुषण कह सकते है |

loading...

शोर एक ऐसी ध्वनि है जिसकी अवांछनीयता का निर्धारण समय एवं स्थान से होता है अर्थात गलत समय एवं गलत स्थान पर एक अनचाही आवाज शोर (Noise) है वर्तमान में शोर के स्थान पर ध्वनि प्रदुषण Sound Pollution शब्द प्रयुक्त किया जाता है |

ध्वनि प्रदुषण के स्त्रोत | Sources of Noise Pollution or Sound Pollution

  • घरेलू स्त्रोत  – रसोईघर में खटपट , रेडिओ , टीवी से उत्पन्न शोर एवं गृह कलह , डांट-डपट , चीख चिल्लाहट , रोना-चिल्लाना |
  • औधौगिक स्त्रोत – कल कारखानों ,व्यावसायिक संस्थानों से उत्पन्न शोर |
  • राजनैतिक स्त्रोत  – धरने , प्रदर्शन , नारेबाजी , चुनाव प्रसार , जुलुस ,रैलियों से उत्पन्न ध्वनि प्रदुषण |
  • यातायात एवं परिवहन स्त्रोत  – सडको पर दौड़ते हुए वाहन ,ट्रेन ,वायु यातायात अन्य स्वचलित वाहनों की ध्वनि तथा हॉर्न की आवाज , धार्मिक कार्यो हेतु लाउडस्पीकर का अति प्रयोग भी कष्टकारी शोर उत्पन्न करता है |
  • अस्पतालों में ध्वनि प्रदुषण के स्त्रोत – ट्रोली ,व्हील चेयर की खडखड़ाहट , उपकरणों ,ऑक्सीजन सिलेण्डरो ,संयत्रों से उत्पन्न ध्वनि , जूतों के चलने की आवाज ,कार्मिको ,रोगियों ,संबधियो का अनियंत्रित वार्तालाप ,आपातकालीन भागदौड़ एवं चीख चिल्लाहट से उत्पन्न शोर , मृत्यु उपरांत करुण रुदन |
  • आतिशबाजी – वैवाहिक समारोहों , त्योहारों , मेलो और उत्सवो में अनियंत्रित आतिशबाजी , मैच या चुनाव की जीत में होने वाली आतिशबाजी ,

ध्वनि प्रदुषण के स्वास्थ्य पर पड़ने वाले कुप्रभाव | Noise Pollution or Sound Pollution Effect of Health

  • अस्थायी या स्थायी तौर पर श्रवण शक्ति की क्षीणता
  • वार्तालाप में बाधा ,खीझ ,चिडचिडाहट उत्पन्न होना
  • कार्यक्षमता में कमी , तनाव बढना
  • अनिद्रा ,उच्च रक्तचाप ,दृष्टिदोष ,चक्कर आना ,अधिक पसीना आना ,थकावट आदि

ध्वनि प्रदुषण को मापना |

ध्वनि प्रदुषण (Noise Pollution) , ध्वनि की तीव्रता (Loudness) एवं आवृति (Frequency) पर निर्भर है | शोर की तीव्रता को Decibels या dB में नापते है | व्यक्ति अधिकतम 85 डेसिबल तक शोर सहन कर सकता है इसके बाद श्रवण शक्ति को क्षति पहुच सकती है | चिकित्सालयों में 20-25 Decibel तक ध्वनि प्रदुषण स्वीकार्य है | ध्वनि की आवृति Hertz या Hz में व्यक्त की जाती है | व्यक्ति 20 Hertz से 2000 Hertz की आवृतिया सुन सकता है |

ध्वनि प्रदुषण की रोकथाम | Prevention from Noise Pollution or Sound Pollution in Hindi

  • मशीन एवं उपकरणों से उत्पन्न शोर पर नियन्त्रण
  • संगीत उपकरणों की ध्वनि नियंत्रित करना
  • श्रमिको ,व्यक्तियों के लिए सुरक्षात्मक साधनों (इयर प्लग आदि ) का प्रयोग
  • सार्वजनिक स्थानों पर (अस्पताल ,शिक्षण संस्थान आदि ) Horn पर प्रतिबंध लगाना
  • शोर की सीमा तय करना तथा कानूनी प्रावधानों द्वारा ध्वनि प्रदुषण पर नियन्त्रण
  • ध्वनि अवशोषक पदार्थ का , मकान एवं अस्पताल निर्माण में उपयोग करना
  • सडको के किनारे हरे पेड़ लगाने से ध्वनि प्रदुषण की तीव्रता कम होती है
  • स्वैच्छिक संस्थानों एवं जन सहयोग हेतु स्वास्थ्य शिक्षा देना
  • अस्पतालों में ध्वनिरोधी सांगरी का उपयोग करना तथा चिकित्सालय में ध्वनि प्रदुषण (Noise Pollution) के स्त्रोतों पर नियन्त्रण करना
loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *