Home यात्रा हरियाण राज्य से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य | Haryana Facts in Hindi

हरियाण राज्य से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य | Haryana Facts in Hindi

153
0
Loading...
हरियाण राज्य से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य | Haryana Facts in Hindi
हरियाण राज्य से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य | Haryana Facts in Hindi

हरियाणा (Haryana )भारत के एक राज्य है जो पूर्वी पंजाब से भाषाई आधार पर अलग होकर 01 नवम्बर 1966 को निर्मित हुआ | उत्तरी भारत में स्थित हरियाणा (Haryana) क्षेत्रफल के लिहाज से भारत का 21वा बड़ा राज्य है | हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ है जबकि National Capital Region सबसे अधिक आबादी वाला शहर है और गुरुग्राम हरियाणा का वित्तीय गढ़ है जहां 500 से अधिक कम्पनियाँ है | हरियाणा में 22 जिले , 154 शहर और 6841 गाँव है |

हरियाणा का इतिहास

हरियाणा (Haryana) का गौरवशाली इतिहास वैदिक काल से आरम्भ होता है | कौरवो और पांड्वो के बीच हुयी एतेहासिक लड़ाई कुरुक्षेत्र में हुयी थी जो हरियाणा में ही है | भारत में मुस्लमानो के आगमन और दिल्ली के भारत की राजधानी बनने तक इस राज्य ने भारत के इतिहास में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है | 1857 में इस राज्य के लोगो ने ब्रिटिश सरकार के विरुद्ध लड़े गये प्रथम स्वाधीनता युद्ध में भारत के अन्य अधिकारियों के साथ मिलकर लड़ाई लड़ी|

जब अंग्रेजो ने 1857 के संग्राम को दबाकर अपनी सत्ता पुन: स्थापित की तो उन्होंने झझर अरु बहादुरगढ़ के नवाबो , वल्लभगढ़ क्र राजा और रेवाड़ी के राव तुलाराम की रियासते छीन ली | इन रियासतों का या तो ब्रिटिश साम्राज्य में मिला लिया गया अथवा पटियाला , नाभा और जिन्द के शासको को सौंप दिया गया | इस प्रकार हरियाणा पंजाब प्रान्त का एक हिस्सा बन गया | पुराने पंजाब राज्य के पुनर्गठन के परिणामस्वरूप 01 नवम्बर 1966 को आधुनिक हरियाणा राज्य अस्तित्व में आया |

हरियाणा की अर्थव्यवस्था

1966 में राज्य की स्थापना के बाद से ही हरियाणा (Haryana) देश का प्रमुख अनाज उत्पादक राज्य रहा है | प्रति व्यक्ति आय की दृष्टि से इसका देश में तीसरा स्थान है | हरियाणा में अनाज उत्पादन उल्लेखनीय रहा है | गेंहू , गन्ना , तिलहन एवं कपास के उत्पादन में यह अग्रणी है | उत्तर भारत में हरियाणा पहला प्रान्त है जहां फसल बीमा योजना शरू की गयी | यहाँ दुग्ध उत्पादन काफी विकसित है और देश के औसत प्रति व्यक्ति 180 ग्राम दूध खपत की तुलना में यहाँ 579 ग्राम दूध की खपत होती है |

हरियाणा (Haryana) के प्रमुख उद्योग है सीमेंट , चीनी , कागज , सूती कपड़ा , सीसे का सामान , पीतल का सामान , साइकिल , मोटर साइकिले , कार बस ट्रकों के टायर ट्यूब , सेनिटरी का सामान , टीवी सेट , स्टील ट्यूब , हाथ के औजार , सुई-धागा , रेफ्रीजरेटर , वनस्पति घी एवं कैनवास के जूते | पिंजौर में हिंदुस्तान मशीन टूल्स का कारखाना है जिसमे ट्रेक्टर बनते है | गुरुग्राम में मारुती का कारखाना है | हरियाणा में इस समय कुल मिलाकर 1 लाख से ज्यादा छोटे पैमाने के औधोगिक कारखाने तथा 1000 से ज्यादा बड़े एवं मध्यम दर्जे के औद्योगिक कारखाने है | हरियाणा प्रथम प्रांत है जहां हर गाँव में बिजली है | गुडगाँव भारत का प्रमुख आईटी केंद्र बन गया है |

हरियाणा में परिवहन

हरियाणा में सड़को की कुल लम्बाई 26,062 किमी है जिसमे से 2,482 किमी राष्ट्रीय राजमार्ग , 1801 किमी स्टेट हाईवे , 1395 किमी मेजर डिस्ट्रिक्ट रोड एवं  20,344 Other District Roads है | हरियाणा में रेलमार्ग की कुल लम्बाई है |

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here