ब्रूस ली की जीवनी Bruce Lee Biography in Hindi

Bruce Lee Biography in Hindi

Bruce Lee Biography in Hindi

loading...

ब्रूस ली की जीवनी Bruce Lee Biography in Hindi

ब्रूस ली का इतिहास Bruce Lee History Hindi

Bruce Lee ब्रूस ली का जन्म 27 नवम्बर 1940 सेन फ्रांसिस्को चाइनाटाउन में जेक्सन स्ट्रीट अस्पताल में हुआ था | चीन कैलेंडर के अनुसार उनका जन्म ड्रैगन के साल  में हुआ था | ब्रूस ली अपने माता पिता की पांच संतानों में चौथी सन्तान था | उनके भाइयो के नाम फोएबे ली , अगनेस ली , पीटर ली और रोबर्ट ली था | उनका वास्तविक नाम जून फेन ली था | 1941 में उनके माता पिता अपनी जन्म भूमि होंगकोंग लौट आये | 

ब्रूसली के पिता एक ओपेरा स्टार थे उसकी वजह से तीन महीने की आयु में ही उन्होंने “गोल्डन गेट गर्ल ” नाम फिल्म में एक बच्ची का किरदार निभाया था | | तीन वर्ष की आयु में ही Bruce Lee ब्रुक ली ने ली-सिंड-लंग (लिटिल ड्रेगन ) के नाम से फिल्मो में व्यावसायिक तौर पर प्रवेश लिया | उनकी पहली फिल्म का नाम “The Beginning of the Boy” था | इसके बाद उन्होंने “The Birth of Mankind” नामक फिल्म में काम किया | अब बचपन से ही उनकी प्रतिभा सामने आने लगी थी |

12 वर्ष की आयु में उन्होंने ला साले कॉलेज में दाखिला लिया | 1953 से वो कुंग-फु की कक्षाए लेने लगे | 1954 में उन्होंने चाचा नृत्य सीखा और अगले वर्ष इसकी चैंपियनशिप में विजयी हुए | 1958 में उन्होंने “The Orphan ” नामक फिल्म में मुख्य बाल कलाकार की भूमिका निभाई थी | उनकी ये एकमात्र ऐसे फिल्म थी जिसमे वो लड़ते हुए नही दिखाई दिए थे | उसी वर्ष उन्होंने घूंसेबाजी प्रतियोगिता में तीन वर्षो से विजेता गैरी को पराजित कर दिया | 1959 में उनके माता-पिता ने उनको अमेरिका भेजने का निर्णय किया क्योंकि कई छोटे मोटे झगड़ो की वजह से पुलिस का दखल बढ़ता जा रहा था |

Training Wing Chun from Yip Man

Training Wing Chun from Yip Manब्रूसली के मार्शल आर्ट तकनीक का विकास विंग चुन नाम तकनीक से हुआ जिसकी शिक्षा उन्होंने 16 वर्ष की उन्होंने यिप मेन नाम मास्टर से ली थी | यिप मेन के पास ब्रूस ली के अलावा भी कई विद्यार्थी “विंग चुन” तकनीक सीखने आते थे जिसका कोई एक निश्चित तरीका नही होता था | यिप मैन अपने विद्यार्थीयो को होंगकोंग की सडको पर लड़ने वाली गैंग्स से मुकाबला करने के लिए कहते थे जिसकी वजह से ही शुरुवात से उनको Street Gangs से लड़ने का शौक था जिसके वजह से उनके पिता बहुत परेशान रहते थे |

अब इस तकनीक को सीखने के लिए जब non-Asians विद्यार्थी आने लगे तो इस तकनीक का विरोध होने लगा जिससे यिप मैन के कई शिष्य छोडकर चले गये |ब्रूस ली ने यिप मैन का साथ नही छोड़ा था जबकि यिप मैन के पास अब 6 से भी कम शिष्य आते थे | यिप मैन ने निजी तौर पर ली को विंग चुन की शिक्षा दी थी | हाल की के कुछ सालो में यिप मैंन के जीवन पर आधारित फिल्मो की एक श्रुंखला आयी थी जिसका नाम “IP Man ” था जिसके दुसरे भाग के अंत में ब्रूस ली उनके शिष्य बनकर आते थे |

Leaving Hong Kong and New life in America

Leaving Hong Kong and New life in Americaअब पिता के कहने पर Bruce Lee ब्रूसली 100 डॉलर जेब में रख अमेरिका चले गये और वहा पर उनके पिता के मित्र के यहा रेस्टोरेंट पर वेटर की नौकरी करने लगे | इसके बाद उन्होंने एडीसन तकनीकी स्कूल से हाई स्कूल का डिप्लोमा किया | अब वो शहर के बगीचों में मार्शल आर्ट सिखाने लग गये थे |1961 में ब्रूस ली ने वाशिंगटन विश्वविद्यालय में दर्शन के अध्ययन के लिए नाम लिखवाया | दुसरी तरफ वो स्कूली छात्रों को मार्शल आर्ट भी सिखाते रहे | 1963 में उन्होंने अपनी पहली कुंग-फु संस्था खोली |1964 में उनका विवाह लिंज से हो गया | ऑकलैंड में ही उनके पुत्र “ब्रांडन ब्रूस ली “का जन्म हुआ था |

Bruce Lee Acting career

Bruce Lee Acting careerवैसे तो ब्रूसली बचपन से ही अपने पिता की मदद से फिल्मो में आ गये थे लेकिन बीच में वापस मार्शल आर्ट्स सिखाने की वजह से फिल्मो में नही आये थे | 1966 में अब पिता की मृत्यु के बाद वो परिवार के साथ लोस एंजेल्स आ गये जहा पर वो नये टीवी शो “The Green Hornet” में काम करने लग गये | इसके बाद उन्होंने बैटमैन टीवी सीरीज के तीन एपिसोड में भी काम किया था | इसके बाद वो फिल्मो के कुछ दृश्यों के लिए मार्शल आर्ट सिखाने लग गये थे | 1969 में लोस एंजेल्स के चाइना टाउन में उन्होंने कुंगफु सिखाने की तीसरी संस्था खोली और इसी साल उन्होंने मोर्लो नामक फिल्म से सहायक अभिनेता के तौर पर काम किया था |

ब्रूस ली की पहली बड़ी फिल्म 1971 में आयी फिल्म “The Big Boss” नामक चाईनीस फिल्म थी जिसमे उनको मुख्य अभिनेता बनाया गया | इस फिल्म की वजह से ब्रूसली पुरे एशिया में प्रसिद्ध हो गये जो पहले केवल होंगकोंग तक सिमित थे | इस फिल्म की सफलता के बाद उन्होंने 1972 में “Fist of Fury” नामक फिल्म में भी काम किया जो उनकी दुसरी सबसे बेहतरीन फिल्म थी | इसी वर्ष Way of the Dragon नामक फिल्म में भी काम किया | इसके बाद 1973 में उन्होंने “Enter the Dragon” फिल्म में मुख्य अभिनेता का किरदार निभाने का मौका मिला जिसमे उनको खूब प्रसिध्दी मिली | इसके बाद उनके पास पैसो की कोई कमी नही रही और इस फिल्म के दुसरे भाग “The Return of Dragon” को उन्होंने स्वयं निर्देशित किया |

Bruce Lee Death

Bruce Lee DeathBruce Lee बूस ली होन्गकोंग में “The Game of Death” के लिए काम कर रहे थे | इसी फिल्म के सेट पर उन्हें बैचेनी हुयी और वो दर्द निवारक दवा लेकर सो गये और उसके बाद कभी नही उठे | लोगो का ये मानना था कि उनकी मौत कुंग-फु  विशेषज्ञों ने करवाई थी क्योंकि वो अपने पेशे से कुंग-फु जैसी गुप्त कला को दुनिया के सामने ला रहे थे | ब्रूस ली के अंतिम संस्कार में 25000 से भी ज्यादा लोग एकत्रित हुए थे | उनके बाद से फ़िल्मी दुनिया में कुंग-फु पर हजारो सफल फिल्मे बनी और कई कलाकार भी खुलकर सामने आये |

2005 में ब्रूस ली के प्रसंशको ने होंगकोंग में उनका स्मारक बनाने के लिए 1 लाख डॉलर धनराशी इक्कठी की | इसके बाद होंग कोंग में उनकी 2.5 मीटर की एक कांसे की मूर्ति बनाई गयी जिसका अनावरण उनके भाई रोबर्ट ली ने किया था | ब्रूस ली को TIME मैगज़ीन में विश्व के 100 प्रतिभाशाली व्यक्तियों की सूची में जगह दी गयी | 2013 में उनको मरणोपरांत एशियन अवार्ड से नवाजा गया | 20१३ में लोस एंजेल्स में भी ब्रूस ली की 7 फूट उची प्रतिमा का अनावरण किया गया | ब्रूस ली के जीवन पर कई Documentary भी बन चुकी है जिसमे उनके जीवन को दर्शाया गया है |

loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *