Bank PO की तैयारी कैसे करे | Bank Po Exam Preparation Tips in Hindi

Bank Po Exam Preparation Tips in Hindi

Bank Po Exam Preparation Tips in Hindiभारत  में आज भी बड़ी संख्या में लोग Banking सुविधा रहित है और हमारे यहा बालिगो में से लगभग 48 प्रतिशत का बैंक खाता नही है हालांकि प्रधानमंत्री की जन धन योजना के तहत कई लोगो ने Banks में अकाउंट खुलवाये है | देश में Bank सुविधा और उपयोग की बात की जाए तो विकसित देशो की तुलना में ये काफी पीछे है | 20 सरकारी और 30 प्राइवेट Banks के बावजूद हमारे पास Banking सुविधाओ और अच्छी ManPower की कमी है |

दुसरी ओर इस पेशे ने हमेशा युवाओं को आकर्षित किया है | यही वजह है कि Bank में भर्ती की परीक्षाओ में बड़ी संख्या में छात्र हिस्सा लेते अहि और इसमें सफल होने के लिए कड़ी प्रतियोगिताओ से गुजरना पड़ता है | बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थान (IBPS) रुपया एक पृथक संस्था की स्थापना S.B.I. को छोडकर सभी राष्ट्रीयकृत Banks के लिए योग्य एवं कुशल मानव शक्ति प्रदान करने के लिए हुयी है | यहे तीन परीक्षायें C.W.E. (P.O. ), C.W.E (लिपिक ) और C.W.E (तकनीकी प्रबंधन विशेषज्ञ अधिकारी , C.A. तथा कानून आधारित रोजगार के लिए ) आयोजित करता है |

C.W.E. (P.O. ) की परीक्षा तीन चरणों Tier-1 , Tier-2 (वस्तुनिष्ट आधारित ऑनलाइन टेस्ट ) और साक्षत्कार के तहत ली जायेगी | 20-30 आयु सीमा वाल कोई भी ग्रेजुएट यह परीक्षा दे सकता है |

  • Tier-1 में एक घंटे की अवधि में गणित और Reasoning के 35-55 प्रश्न और अंग्रेजी से 30 प्रश्नों सहित कुल 100 प्रश्न होंगे | यह सेक्शन कट ऑफ़ के साथ क्वालिफाइंग राउंड होगा और Tier-2 के पात्रता के लिए इसे पास करना अनिवार्य है |
  • Tier-1 में Reasoning (50) , General Awareness (40), Quantitative Aptitude (50) , English (40) और Computer (20) के कुल प्रश्नों सहित पांच सेक्शन होंगे | सभी प्रश्नों के अंक बराबर होंगे | प्रश्न हल करते हुए याद रखे कि Negative Marking से बचना होगा |

Bank PO Exam का पाठ्यक्रम

परीक्षा का अंग्रेजी भाषा सिलेबस मूल अंग्रेजी ज्ञान की परीक्षा है | इसमें सामान्य अंग्रेजी , Comprehension और Spelling सेक्शन है | Quantitative Aptitude  सिलेबस छात्रों की गणन क्षमता और साथ ही समस्या सुलझाने के कौशल की जांच करने का प्रयास करता है | General Awareness में Current Affairs के बारे में नवीनतम जानकारी गत 6 महीनों की घटनाये ,पुरुस्कार व सम्मान , खेल , वित्त , भारतीय एवं अंतर्राष्ट्रीय अर्थव्वयस्था , सयुंक्त राष्ट्र संघ ,विपणन , भारतीय सविंधान ,बैंकिंग का इतिहास बैंकिंग नियम , भारतीय रिज़र्व बैंक ,राज्कौशिक मौद्रिक नीतिया आदि विभिन्न विषयों को शामिल किया जाता है |

कंप्यूटर सिलेबस में बेसिक कम्पुटर , टर्मिनोलॉजी ,सॉफ्टवेर एवं हार्डवेयर , इन्टरनेट आदि के मूल ज्ञान को लिया जाता है |Reasoning सेक्शन में Verbal Reasoning एवं non Verbal संबधी प्रश्न शामिल है |

साक्षात्कार

परीक्षा में सफलता पाने वाले छात्रों को IBPS द्वारा आयोजित इंटरव्यू से गुजरना होगा  | इंटरव्यू में भी स्कोर मिलता है | अंतिम स्कोर Tier-2 के स्कोर और इंटरव्यू के स्कोर का योग होता है | इस परीक्षा के पैटर्न में हाल के वर्षो में कुछ बदला है |कुछ परिवर्तन इस प्रकार है अंकगणित के शब्द समस्याओ पर अधिक ध्यान , गणित के प्रश्नों की कठिनता में वृधि ,प्रोबबिलिटी का वैटेग बढाये जा सकते है प्रश्न अधिक तार्किक और पहले से भी कही ज्यादा मुश्किल है |

Bank PO की तैयारी कैसे करे

  • कभी भी Short Tricks पर फोकस ना करे |
  • किसी भी फोर्मुले को याद करते हुए सुनिश्चित करे कि उन्हें दिल से सीखे |
  • आर्थिक समाचार और अंग्रेजी के उपयोग पर अपना ध्यान केन्द्रित करते हुए रोज अख़बार पढ़े |
  • इंटरव्यू में अच्छा स्कोर करना भी जरुरी है जो अपनी पसंद के Bank में नियुक्ति करने के लिए आवश्यक है |
  • इंटरव्यू में मुख्य रूप से आप और आपके परिवेश पर ध्यान दिया जाएगा |
  • अपने पर आत्मविश्वास रखकर और हंसमुख होकर साक्षात्कार कर्ता को जवाब देना चाहिए |
  • दुनिया के आर्थिक और बैंकिंग परिदृश्य को समझे |
  • खुद को सामान्य रूप से पूछे जाने वाले ऐसे प्रश्नों के लिए तैयार रखे जैसे कि “अपने बारे में बताओ ?” या “आपके शोर्ट टर्म और लॉन्ग टर्म करियर लक्ष्य क्या है ?”

 

loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *