More stories

  • in

    लोककथा – एक पैसे में शादी | Lokkatha – Ek Paise me Shaadi

    एक गरीब औरत थी | उसका एक बेटा था | जब वह बड़ा हुआ तो उसने अपनी माँ से कहा “मै शादी करने की सोच रहा हु ताकि तुम्हे घर के काम-काज में सहारा मिल सके” उसकी बुधिया माँ बोली “मेरे पास पैसे के नाम पर कुछ भी नही है ऐसे में तू भला शादी […] More

  • in

    लोककथा – आलसी का प्रण | Lokkatha- Aalsi Ka Pran

    पुराने जमाने में एक बड़ा ही बलवान राजा था | उन दिनों हर राजदरबार में कुछ चारण-भाट हुआ करते थे | वे राजा के बड़े-बड़े कामो का गान किया करते थे | ऐसा ही एक चारण इस राजा के दरबार में रहता था | वह बूढा और बुद्धिमान आदमी था | एक शाम उस चारण […] More

  • in

    लोककथा – दिल्ली की सैर | Lokkatha – Dilli Ki Sair

    एक बार किसी जाट ने एक मियाँ से पूछा “खानजी , मेरी दिल्ली देखने की बड़ी तमन्ना है | क्या करना चाहिए ?” मियाँ ने जवाब दिया “किसी आदमी को दो जूते लगा दो तुम्हे दिल्ली दिख जायेगी” चूँकि वहा कोई दूसरा तो कोई था नही | बस जाट ने जूते उतारे और मियाँ को […] More

  • Lokkatha - Do Chalak Bhai
    in

    लोककथा – दो चालाक भाई | Lokkatha – Do Chalak Bhai

    एक राजा था | उसका मंत्री बड़ा चतुर था | मंत्री दो बेटे छोडकर स्वर्ग सिधार गया | बेटे अपने पिता जैसे चतुर चालाक थे | राजा ने उन्हें मंत्री बनाने की सोची लेकिन दरबार के कुछ लोगो ने उनके खिलाफ षडयंत्र रचा | राजा से कह दिया “इनके स्वर्गीय पिता ने हमसे साठ हजार […] More

  • Lokatha - Siddh Ka Prasad
    in

    लोककथा – सिद्ध का प्रसाद | Lokatha – Siddh Ka Prasad

    लालपुर नामक शहर में एक राजा कौशलध्वज राज करता था | राजा के महल के पास एक डूंगरी थी | डूंगरी पर कोई आता जाता तो महल के रखवाले को दिखाई दे जाता था | बिना राजा के हुक्म के डूंगरी पर कोई जा नही सकता था | एक दिन राजा ने महल में जाते […] More

  • Puri Tour Guide in Hindi
    in

    Puri Tour Guide in Hindi | पुरी के प्रमुख पर्यटन स्थल

    उड़ीसा की राजधानी भुवनेश्वर से करीब 60 किमी दूर समुद्र-तट पर स्थित पुरी भारत का परम पावन तीर्थ स्थल है | यहाँ का जगन्नाथ मन्दिर विश्वविख्यात है | बारहों महीने में जगन्नाथ , बलभद्र और सुभद्रा की प्रतिमाओं के दर्शनार्थ लाखो की संख्या में देश-विदेश से लोग यहाँ आते रहते है | पुरी में गुजरते […] More